नै मांगब सोना माँ, नै मांगब चांदी,
दर्शन दिह माँ दुर्गा भवानी॥

एलौ शरणमे माँ बैनक भिखारी,
अहा चरणके माँ हम छी पुजारी,
कि कि सुनाबौ -2 माँ,
हम अपण कहानी….

जीवनके भार माँ सौप देलौ सबटा,
अही हरु मा हमर ई बिपदा,
जीवन सबाइर दियौ-2 माँ,
हे महारानी….

‘‘दिलीप दरभंगीया’’ के बिनती सुनियौ,
बालक अनजान छी क्षमा दान करियौ,
आश लगौने छी-2 माँ,
अही पर भवानी….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह