कर किरपा तेरे दर आऊँगा,
मैं भी तेरा दर्शन पाउँगा,
कर किरपा तेरे दर आऊँगा…..

एक नजर किरपा की कर दो,
झोली माँ खुशियों से भर दो,
तेरे चुनरी सीस चढ़ाऊंगा….

जो भी तेरे दर चल आये,
बिना मांगे सब तुझसे पाए,
मैं भी खाली हाथ ना जाऊँगा…….

अपने घर तेरी ज्योत जगाऊँ,
भक्तों के संग चौंकी कराऊँ,
संजीव के संग में गाऊँगा,
कर किरपा तेरे दर आऊँगा………

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह