मुक्ति का कोई तु जतन कर ले,
रोज थोड़ा थोड़ा हरि का भजन कर लें……

भक्ति करेगा तो बड़ा सुख पायेगा,
भक्ति से आत्मा का मैल छुट जायेगा,
आत्मा के साथ साथ मन कर लें,
रोज थोड़ा थोड़ा…..

संगत कर अच्छे लोगों की,
दवा मिल जायेगी सब रोगों की,
जिन्दगी को अपनी चमन कर लें,
रोज थोड़ा थोड़ा……

जग के अंधेरे से बाहर निकलकर,
य़े बन्दे तु हरि गुण गाकर,
आत्मा से हरि का मिलन कर लें,
रोज थोड़ा थोड़ा….

मुक्ति का कोई तु जतन कर ले,
रोज थोड़ा थोड़ा हरि का भजन कर लें…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महावीर जन्म कल्याणक

रविवार, 21 अप्रैल 2024

महावीर जन्म कल्याणक
हनुमान जयंती

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

हनुमान जयंती
चैत्र पूर्णिमा

मंगलवार, 23 अप्रैल 2024

चैत्र पूर्णिमा
संकष्टी चतुर्थी

शनिवार, 27 अप्रैल 2024

संकष्टी चतुर्थी
वरुथिनी एकादशी

शनिवार, 04 मई 2024

वरुथिनी एकादशी
प्रदोष व्रत

रविवार, 05 मई 2024

प्रदोष व्रत

संग्रह