गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी….

सुरहिन गैया को गोबर मँगाऊ,
दिग धर अगना लीपाऊं,
आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी……

गंगा जल से स्नान कराऊँ,
पीताम्बर पहनाऊं,
आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी…….

हरी हरी दूब मैं खूब चढ़ाऊँ,
चन्दन घोल लगाऊं
आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी…….

पहली पूजा करूँ तुम्हारी,
पहली पूजा करू तुम्हारी,
लड्डू भोग लगाऊं,
आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी,
गौरी गणेश मनाऊँ आज सुध लीजे हमारी…….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

महेश नवमी

शनिवार, 15 जून 2024

महेश नवमी
गंगा दशहरा

रविवार, 16 जून 2024

गंगा दशहरा
गायत्री जयंती

सोमवार, 17 जून 2024

गायत्री जयंती
निर्जला एकादशी

मंगलवार, 18 जून 2024

निर्जला एकादशी
ज्येष्ठ पूर्णिमा

शनिवार, 22 जून 2024

ज्येष्ठ पूर्णिमा
संत कबीर दास जयंती

शनिवार, 22 जून 2024

संत कबीर दास जयंती

संग्रह