मेरे बना दो काम गणेशा तुम को मेरे परनाम
तुम को मेरे परनाम गणेशा,
हो देवा भजती हु सुबहो शाम गणेशा तुम को मेरा परनाम

तुम्हारा नाम जो ध्यावे गणेशा तोहरी शरण जो आवे गणेशा
आज है जगराते की वेलातोरे जयकारे जो लगावे गणेशा पाता है सुख वो तमाम गणेशा
तुम को मेरे परनाम गणेशा,

तुम्हरी देवा बात निराली
तू अमावस को करते दीवाली
जिस ने पुकारा देवा सचे मन से उस ने देवा मंजिल पाली
बालिके दुःख की भी टालो श्याम गणेशा
तुम को मेरे परनाम गणेशा,

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह