दे दईयो राधे दे दईयो,
कान्हा की बांसुरियां,
ओ राधा रानी दे दईयो……

बिन बंसी ना गईया चरायें,
गइयों को फिर कैसे बुलाएँ,
बंसी हमारी जान,
ओ राधा रानी दे दईयो,
दे दईयो राधें दे दईयो,
कान्हा की बांसुरियां,
ओ राधा रानी दे दईयो…..

बिन बंसी ना माखन चुरायें,
ग्वालों को फिर कैसे खिलाएँ,
बंसी हमारी शान,
ओ राधा रानी दे दईयो,
दे दईयो राधें दे दईयो,
कान्हा की बांसुरियां,
ओ राधा रानी दे दईयो……

बिन बंसी ना रास रचायें,
ग्वालन को फिर कैसे नचाएँ,
बंसी तुम्हारी गुलाम,
ओ राधा रानी दे दईयो,
दे दईयो राधें दे दईयो,
कान्हा की बांसुरियां,
ओ राधा रानी दे दईयो……

दे दईयो राधे दे दईयो,
कान्हा की बांसुरियां,
ओ राधा रानी दे दईयो….

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

कोकिला व्रत

रविवार, 21 जुलाई 2024

कोकिला व्रत
गुरु पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

गुरु पूर्णिमा
आषाढ़ पूर्णिमा

रविवार, 21 जुलाई 2024

आषाढ़ पूर्णिमा
मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी

संग्रह