मेरी विनती सुनो सरकार, श्याम श्याम,,
श्याम सुंदर कर दो मेरा उद्दार,
शरण तेरी आये, श्याम मेरे,
शरण तेरी आये……

किनारा नज़र नहीं आता है,
कोई तेरे सिवा नहीं भाता है,
तुम आकर अब बचाओगे,
इस भवर के पार लगाओगे,
मेरी विनती सुनो सरकार,
श्याम सुंदर कर दो मेरा उद्दार,
शरण तेरी आये, श्याम मेरे,
शरण तेरी आये……

मुश्किल में तुझे पुकारा है,
जीने का तू ही सहारा है,
तुझ बिन हम जी नहीं पाएंगे,
तुझे छोड़ के हम कहा जाएंगे,
मेरी विनती सुनो सरकार,
श्याम सुंदर कर दो मेरा उद्दार,
शरण तेरी आये, श्याम मेरे,
शरण तेरी आये……

हमे ऐसा वर दे दो श्यामा,
तुम मेरे हो कह दो श्यामा,
तुझपे सब अर्पण कर जाऊ,
तन मन तुझपे ही हर जाऊ,
मेरी विनती सुनो सरकार,
श्याम सुंदर कर दो मेरा उद्दार,
शरण तेरी आये, श्याम मेरे,
शरण तेरी आये……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह