मुझसे ना रुठो राधा मुंह मोड़ कर जाओ ना,
ओ राधिके,, दिल तोड़ कर जाओ ना……

तेरे बिन राधा नहीं किसी को भी देखूं, सब जानती हो प्रिय,
जान से भी ज्यादा मैंने चाहा है तुमको, मानती हो ना प्रिय,,
ओ राधा मानती हो ना प्रिय,
प्यार हमारा छूटे ना, तुम छोड़ कर जाओ ना,
ओ राधिके,, दिल तोड़ कर जाओ ना……

तन में भी तुम हो मन में भी तुम हो, जीवन में तुम ही हो,
वादा तुम ही से है यह हमारा प्रेम कभी ना कम हो,
हो राधा प्रेम कभी ना कम हो,
कान पकड़ता हूं राधा छोड़ कर जाओ ना,
प्राण प्रिय राधा मुझसे हाथ छोड़ कर जाओ ना,
ओ राधिके,, दिल तोड़ कर जाओ ना…..

दुनिया यह जब भी प्यार करेगी याद करेगी हमको,
कृष्ण कन्हैया कहेगी मुझको राधा कहेगी तुझको,
ओ प्यारी राधा कहेगी तुझको,
सच जो कहा है राधे तो फिर लौट के आओ ना,
सच जो कहा है राधे तो फिर दौड़ कर आओ ना,
ओ राधिके,, दिल तोड़ कर जाओ ना……

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

मंगला गौरी व्रत

मंगलवार, 23 जुलाई 2024

मंगला गौरी व्रत
संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी

संग्रह