पर्दा मुख से हटा बंसी वाले तेरी महफ़िल में आए दीवाने…..

तेरी मुरली ने बहुत सताया सारे भक्तों को घर से बुलाया,
बंसी फिर से बजा मुरलीवाले, तेरी महफ़िल में आए दीवाने,
पर्दा मुख से हटा बंसी वाले तेरी महफ़िल में आए दीवाने…..

मैंने लोक लाज सब छोड़ी तुझसे जोड़ी जगत से तोड़ी,
मुझे अपना बना मुरलीवाले, तेरी महफ़िल में आए दीवाने,
पर्दा मुख से हटा बंसी वाले तेरी महफ़िल में आए दीवाने…..

तूने वृंदावन रास रचाया राधा रानी पर प्यार लुटाया,
प्यार हम पर भी लुटा मुरलीवाले, तेरी महफ़िल में आए दीवाने,
पर्दा मुख से हटा बंसी वाले तेरी महफ़िल में आए दीवाने…..

Comments

संबंधित लेख

आगामी उपवास और त्यौहार

संकष्टी चतुर्थी

बुधवार, 24 जुलाई 2024

संकष्टी चतुर्थी
कामिका एकादशी

बुधवार, 31 जुलाई 2024

कामिका एकादशी
मासिक शिवरात्रि

शुक्रवार, 02 अगस्त 2024

मासिक शिवरात्रि
हरियाली तीज

बुधवार, 07 अगस्त 2024

हरियाली तीज
नाग पंचमी

शुक्रवार, 09 अगस्त 2024

नाग पंचमी
कल्कि जयंती

शनिवार, 10 अगस्त 2024

कल्कि जयंती

संग्रह